तब बिहार में मोकामा को छोड़कर गंगा पर एक भी पुल नहीं था

Gandhi Setu, Patna. Source Wikipedia
NK SINGH

 

रांची टाइम्स के २२ जून १९६९ के अंक में छपी मेरी यह रिपोर्ट बताती है:

  • 26 करोड़ की लागत से पटना में गंगा पर पुल बनेगा.
  • बिहार में गंगा तट पर ४२५ किलोमीटर तक कोई पुल नहीं था.
  • उत्तर प्रदेश के एक हज़ार किलोमीटर लम्बे गंगा प्रदेश में तब ६ पुल थे.
  • बिहार में गंगा लगभग ५०० किलोमीटर में फैली है, पर वहां केवल एक पुल था.

जब ६ किलोमीटर लम्बा यह पुल दस-बारह साल बाद तैयार हुआ तो उसकी लागत लगभग तीन गुना बढ़ गयी थी.

पटना का गाँधी सेतु १९८२ में चालू हुआ. तब तक पूरे बिहार में गंगा पर केवल एक ही पुल था — मोकामा का राजेंद्र सेतु.

अब पटना में गंगा पर दो-दो पुल हो गए हैं, और तीसरे की तैयारी है. पर एक बात है, उसके बाद से ही स्टीमर पर गंगा पार करने का पूरा रोमांस ही जाता रहा.

Ranchi Times 22 June 1969

Ranchi Times 22 June 1969

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *