चाईबासा के दंगे: क्यों और कैसे

Chaibasa. Pic courtesy NIC
NK SINGH

चाईबासा के ‘बुद्धिमान’ अफसरों का कहना है कि उनके शहर में फसाद की आग अचानक भड़की। 15 अप्रैल के पहले शहर में अमन-चैन था, सुख की बाँसुरी बज रही थी। एकाएक बमों के साथ मुसलमानों ने रामनवमी के जुलूस पर हमला किया और सांप्रदायिक दंगा फ़ाइल गया, जिसमें कुछ मरे, कुछ घायल हुए। Continue reading “चाईबासा के दंगे: क्यों और कैसे”

Nostalgia: Frontier & Utpal Dutt

Utpal Dutt with Satyajit Ray
NK SINGH

In the late ’60s and early ’70s, Frontierthe Left magazine edited by Samar Sen, used to carry regularly advertisements of Epic Theatre, a magazine devoted to theatre.

Like Frontier, Epic Theatre too was published from Calcutta, now Kolkata. The Editor of Epic Theatre was the leading light of Bengal’s vibrant theatre movement, Utpal Dutt. The magazine’s name was, apparently, based on Bertolt Brecht’s Epic Theatre movement. Continue reading “Nostalgia: Frontier & Utpal Dutt”